बरेका एक्सप्रेस: पढ़िए बनारस रेल कारखाना से जुड़ी आज की तमाम खबरें

0
33

बनारस रेल इंजन कारखाना (बरेका) के प्राविधिक प्रशिक्षण केंद्र के ऑडिटोरियम में बुधवार को रेलवे सुरक्षा बल का 36 वां स्थापना दिवस मनाया गया। इस कार्यक्रम में काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के आयुर्वेद संकाय के द्रव्यगुण विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो. के. एन. द्विवेदी ने रेलवे सुरक्षा बल के जवानों को आयुर्वेद की उपयोगिता और इसके लाभ की जानकारी दी।

प्रो. द्विवेदी ने बताया कि “आदि काल से ही हमारे देश में आयुर्वेद के इस्तेमाल से गंभीर बीमारियों का इलाज किया जाता रहा है। लेकिन सही जानकारी उपलब्ध नहीं होने के कारण आयुर्वेद थोड़ा पिछड़-सा गया है। लेकिन वर्तमान समय में लोग आयुर्वेद की तरफ आकर्षित हो रहे हैं।” उन्होंने आगे कहा कि “कोरोना काल में आयुर्वेद की उपयोगिता आम जनमानस के लिए वरदान सिद्ध हुआ है। आयुर्वेद दवाओं जैसे काढ़ा, गिलोय तथा अन्य आयुर्वेदिक दवाओं के इस्तेमाल के कारण कोरोना मरीजों को राहत मिली है तथा उनकी जान बचाई जा सकी है।”

रेलवे सुरक्षा बल के महानिरीक्षक और प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त आर. एस. चौहान ने स्वागत भाषण देते हुए आयुर्वेद के महत्व पर बात की। कार्यक्रम का संचालन रेलवे सुरक्षा बल के प्रशासन पोस्ट के प्रभारी निरीक्षक के. के. सिंह ने किया। कार्यक्रम में धन्यवाद ज्ञापन किया रेलवे सुरक्षा बल के सुरक्षा आयुक्त अजीत कुमार शाही ने।

बरेका में स्वच्छता अभियान जारी:

‘स्वच्छता पखवाड़ा’ के अंतर्गत बनारस रेल इंजन कारखाना में बुधवार को स्वच्छता अभियान चलाया गया। प्रमुख मुख्य कार्मिक अधिकारी प्रदीप कुमार सिंह के नेतृत्व में आयोजित स्व‍च्छता अभियान में बरेका कर्मशाला कैंटीन और प्रशासन भवन कैंटीन के इन-साइड एवं आउट-साइड एरिया में साफ-सफाई की गई। इस अभियान के दौरान विशेष रूप से बर्तनों की उचित साफ-सफाई के साथ ही कचड़े के श्रोत की पहचान कर भविष्य में लगातार साफ-सफाई रखने के प्रति कैंटीन कर्मचारियों को जागरूक किया गया। कैंटीन के कर्मचारियों को विशेष रूप से पॉलिथीन का उपयोग न करने की सलाह दी गई।

बरेका में सफाई करते अधिकारी

आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन:

भारत की आज़ादी के 75वें वर्षगांठ पर आयोजित “आज़ादी का अमृत महोत्सव” के अंतर्गत बरेका के संस्थान के तत्वावधान में तथा प्रमुख मुख्य कार्मिक अधिकारी प्रदीप कुमार सिंह के दिशानिर्देशन में चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस चित्रकला प्रतियोगिता में बरेका सहित आसपास के क्षेत्रों के बच्चों ने भाग लिया।

चित्रकला प्रतियोगिता में प्रस्तुत एक चित्र

प्रतियोगिता में सम्मिलित प्रतिभागियों ने देशभक्ति से ओतप्रोत चित्रों बनाए। चित्रकला प्रतियोगिता में शांभवी सिंह एवं साक्षी दागी ने प्रथम स्थान हासिल किया। दूसरा स्थान मिला प्रियांशी गुप्ता को। प्रतिभा पाल ने इस प्रतियोगिता में तीसरे स्थान पर कब्जा जमाया। इसके अलावा पन्ने लाल शर्मा, आंचल रावत और पूजा मौर्य को सांत्वना पुरस्कार प्राप्त हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here