Tuesday, October 26, 2021

अमिताभ बच्चन को क्या सूझा कि कमला पसंद के विज्ञापन से नाम वापस ले लिया?

सिनेमा जगत के मशहूर सितारे और सदी के महानायक कहे जाने वाले अमिताभ बच्चन ने पान मसाला ब्रांड कमला पसंद से अपना नाम वापस ले लिया है। कमला पसंद के विज्ञापन के लिए हो रही आलोचनाओं के बाद अमिताभ बच्चन ने अपना नाम वापस ले लिया है। अमिताभ बच्चन के कार्यालय की ओर से बीते 10 अक्टूबर की रात जारी एक ब्लॉग पोस्ट में बताया गया कि विज्ञापन चलने के कुछ दिन बाद ही उन्होंने इस ब्राण्ड से अपना नाम वापस ले लिया। साथ ही इस विज्ञापन के लिए मिले पैसे भी उन्होंने लौटा दिए हैं।

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता अमिताभ बच्चन को National Organization Tobacco Eradication (NOTE) की ओर से एक पत्र भेजा गया था। जिसमें अमिताभ बच्चन से पान मसाला कंपनियों का प्रचार न करने की अपील की गई थी। NOTE ने अमिताभ बच्चन से कहा था कि वो ऐसे किसी ब्राण्ड का हिस्सा ना बने। साथ ही सरकार के तम्बाकू विरोधी अभियान को बढ़ावा दें।

इसके बाद बिग बी ने खुद को इस पान मसाला कंपनी के विज्ञापन से अलग कर लिया। अमिताभ बच्चन के कार्यालय की ओर से जारी ब्लॉग में कहा गया है कि “मिस्टर बच्चन जब उस ब्रांड से जुड़े थे तब उन्हें नहीं पता था कि वो किसी सरोगेट विज्ञापन के तहत आता है। लेकिन इसकी जानकारी मिलते ही उन्होंने खुद को इससे अलग कर लिया।”

क्या था विज्ञापन में?

हाल के दिनों में अमिताभ बच्चन और रणवीर सिंह एक पान मसाला कंपनी कमला पसंद का प्रचार कर रहे थे। इस विज्ञापन में अमिताभ बच्चन रणवीर सिंह के पिता की भूमिका में दिखाए गए हैं। विज्ञापन में दोनों के अलग-अलग शौक को दिखाया जाता है। लेकिन फिर कहा जाता है कि “बाप और बेटे के अलग हैं रंग लेकिन दोनों का एक है अनोखा स्वाद, कमला पसंद।”

कमला पसंद के विज्ञापन को लेकर अमिताभ बच्चन की खूब आलोचना हो रही थी। सोशल मीडिया पर उन्हें ट्रोल भी होना पड़ा। फेसबुक पर अमिताभ बच्चन एक पोस्ट पर इस बाबत एक यूजर ने सवाल किया था कि “प्रणाम सर, आपसे एक बात पूछनी है। क्या जरूरत है कि आपको भी कमला पसंद पान मसाले का विज्ञापन करना पड़ा। फिर क्या फर्क है आप में और इन टटपुंजियों में?”

अमिताभ बच्चन ने फेसबुक पर इस कमेंट का जवाब देते हुए लिखा था कि “मान्यवर, क्षमा प्रार्थी हूं। किसी भी व्यवसाय में यदि किसी का भला हो रहा है, तो ये नहीं सोचना चाहिए कि हम उसके साथ क्यों जुड़ रहे हैं। हां यदि व्यवसाय है तो उसमें हमें भी अपने व्यवसाय के बारे में सोचना पड़ता है।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles